गौशाला बना गुनौर का मुख्य सड़क मार्ग, बड़ी दुर्घटना की सम्भावना, गुनौर से संवाद न्यूज ब्यूरो वेद प्रकाश तिवारी की रिपोर्ट

0
250

गौशाला बना गुनौर मुख्य सड़क मार्ग बड़ी दुर्घटना होने के हो रहे गहरे संकेत

स्थानीय प्रशासन सहित जन-प्रतिनिधियों द्वारा नहीं उठाया जा रहा कोई ठोस कदम

  1. आवारा पशुओं की भरमार से अन्नदाता किसान भी हो रहे काफी परेशान, फसलें हो रही बर्बाद, प्रशासन है बेपरवाह
    गुनौर निज प्रतिनिधि:-विधानसभा मुख्यालय की मुख्य सड़क मार्गों पर सैकड़ों की तादात में आवारा पशुओं की भरमार से आवागमन तो अवरुद्ध है ही साथ ही बढ़ती हुई संख्या में आवारा पशुओं के द्वारा अन्नदाता किसानों की मेहनत पसीने की कमाई फसलें बर्बाद हो रही है गौरतलब हो कि गुनौर मुख्यालय के मुख्य सड़क मार्गों पर गौशाला की तरह आवागमन को  अवरोध किए हुए सैकड़ों आवारा पशुओं को देखने से ऐसा लगता है की हम किसी पशुओं की गौशाला या किसी जंगल में विचरण करते हुए सैकड़ों की तादात में सुंदर पशुओं का नजारा जैसा देखने को मिल रहा है
    समाचार पत्र में इस चित्र को देखकर यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि गुनौर मुख्य सड़क मार्ग पर पैदल चलना कितना मुश्किल हो रहा है वाहनों के आवागमन में कितनी बड़ी दुर्घटनाएं होने की आशंका का अंदाजा लगाया जा सकता है बावजूद यहां का स्थानीय प्रशासन एवं स्थानीय जनप्रतिनिधि नेता कुंभकरण की नींद में सो रहे लचर व्यवस्था बेपरवाह प्रशासन की तर्ज पर चल रही मुख्यालय गुनौर की व्यवस्था विकास की तो बात बहुत दूर है आज जो कुछ भी गुनौर में हैं उस पर भी जीना हो रहा मुश्किल
    चुनावी समर के दौरान नेताओं के बड़े बड़े बायदो से सुनने को तो जरूर मिलता है कि गौशाला बनवा एंगे बावड़ी करवाएंगे कुंए खुदवा आएंगे विकास की गंगा बहाएंगे लेकिन चुनाव के बाद सारी योजनाओं में लग जाती है जंग पूरे किए हुए वादे हो जाते हैं टाय टाय फिश ज्ञात हो कि समाचार पत्र में दिख रहा यह प्रोफाइल चित्र गुनौर की इलाहाबाद बैंक सिली तिराहा स्थित हंड्रेड डायल 100 नंबर का मुख्य स्थान माना जाता है यह तिराहा सार्वजनिक जीवन प्रणाली सभी लोगों का आवागमन संचालन करता है चाहे वह स्कूल जाने के लिए हो बैंक जाने के लिए या फिर सभी प्रकार की जरूरतमंद कार्यों हेतु ब्लॉक थाना तहसील जाने का मार्ग यहीं से प्रशस्त होता है गुनौर शहर में प्रवेश करने हेतु इस रास्ते से गुजर ना लोगों की अति आवश्यक जीवन प्रणाली के दायरे में आता है जहां पर इन आवारा पशुओं की सैकड़ों की तादात में संपूर्ण आवागमन अवरुद्ध कर के बे रियल जाम की स्थिति निर्मित की हुई है जो काफी मुसीबत भारी परेशानी के साथ-साथ किसी बड़ी दुर्घटना होने की आशंका के न्योता देने के समान कम नहीं है ऐसे में गुनौर की जनता ने स्थानीय प्रशासन सहित जिले के मुखिया न्याय प्रिय कलेक्टर से अपील की है कि गुनौर में बढ़ती हुई संख्या में आवारा पशुओं की भरमार को सुनिश्चित व्यवस्था हेतु कोई ठोस कदम उठाकर राहत प्रदान की जाए
  2. गुनौर से संवाद न्यूज ब्यूरो वेद प्रकाश तिवारी की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here