पुलिस, राजस्व व खनिज अधिकारी के संरक्षण में जारी अवैध रेत की कालाबाजारी,अजयगढ़ से संवाद न्यूज प्रतिनिधि जयराम पाठक की रिपोर्ट

पुलिस, राजस्व व खनिज अधिकारी के संरक्षण में जारी अवैध रेत की कालाबाजारी थाने के सामने से गुजरता है अवैध रेत से भरे ट्रक व डंफरों का रेला पन्ना। अजयगढ़ प्रतिबंध के बावजूद अवैध रेत उत्खनन और परिवहन का काला कारोबार रुकने का नाम नहीं ले रहा है। अजयगढ़ की जीवन रेखा केन नदी के घाटों और डंपों से एलएनटी और पोकलेन मशीनों से रेत ट्रक व डंफरों में लोड कर पन्ना, सतना, कटनी और उत्तर प्रदेश के बांदा की ओर भेजी जा रही है। उदयपुर की बंद खदान और डंप से निकलने वाली अवैध रेत से भरे वाहनों का रेला शाम होते ही अजयगढ़ थाना के सामने से गुजरना सुरू हो जाता है। जो बस स्टैंड, बड़ी फील्ड और माधवगंज होते हुए निकलते हैं। इस दौरान रेत माफिया को किसी प्रकार की समस्या का सामना ना करना पड़े पुलिस द्वारा इसका पूरा खयाल रखा जाता है। फिर चाहे वह रास्ते में खड़ा पत्रकार ही क्यों ना हो। वहीं वीरा में एबीसीएस प्लांट के पास प्रशासन द्वारा सीज किए गए अवैध डंप से प्रतिदिन दर्जनों डंफर लोड किए जा रहे हैं। जो वीरा चैकी के सामने से ही गुजरते हैं। परंतु पुलिस, राजस्व व खनिज विभाग के अधिकारियों की मिलीभगत से चल रहे अवैध रेत के कारोबार को काई फर्क नहीं पड़ता है। कभी कभार कार्यवाई का दिखावा कर अपनी करतूतों को छिपाने की कोसिस भी कर ली जाती है। इसके अलावा चंदौरा, चांदीपाठी, भीना, बरकोलरा, मोहाना, फरस्वाहा, रामनई में भी अंधाधुध तरीके से अवैध रेत की निकासी जारी है। खुलेआम जारी अवैध रेत उत्खनन और परिवहन के बारे में पुलिस, राजस्व या खनिज विभाग के अधिकारियों को सूचना देने वालों के फोन भी नहीं उठाए जाते। समाचार प्रकाशित करने वाले पत्रकार को दी धमकी पुलिस और रेत माफिया की सांठगांठ इस हद तक सामने आ चुकी है कि अवैध रेत उत्खनन और परिवहन से संबंधित समाचार प्रकाशित करने वाले पत्रकार को पुलिस द्वारा बदसलूकी करते हुए झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी दी गई। पीड़ित पत्रकार द्वारा इसकी सिकायत पुलिस अधीक्षक और जिला कलेक्टर को सौपी गई है। पुलिस अधीक्षक मयंक अवस्थी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच का आश्वासन दिया है। रेत माफिया बना रहे सिकायत वापस लेने का दबाव शिकायती आवेदन कलेक्टर और एसपी के पास पहुंचते ही रेत माफियाओं द्वारा पत्रकार को फोन पर समझौते का दबाव बनाने हेतु पुलिस के कानूनी पावर का बखान कर पीड़ित पत्रकार को भयभीत करने के प्रयास में है। पर अपने संवैधानिक और मैलिक अधिकारों के जानकार युवक का कहना है कि मुझे कानून पर पूरा भरोसा है। कनून से बड़ा कोई नहीं मुझे न्याय जरूर मिलेगा। और उचित कार्यवाही होगी अजयगढ़ से संवाद न्यूज और कुण्डेश्वर टाइम्स तहसील प्रतिनिधि अजयगढ़ से जयराम पाठक

0
21

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here