मध्यप्रदेश में भी दिखने लगा तौकते तूफान का असर,कई जगहों पर आंधी-पानी से उखड़े पेड़, जानिए कहां कहां होगा असर

0
223

चक्रवाती तूफान तौकते का असर मध्यप्रदेश में भी दिखने लगा है. रविवार को दिन भर उमस के बाद शाम को अचानक प्रदेश के कई हिस्सों में तेज़ हवाओं के साथ बारिश हुई.

रविवार को उज्जैन, भोपाल, होशंगाबाद, रायसेन, शहडोल, मंदसौर, कटनी, गुना, रतलाम, मंडला, छतरपुर और खंडवा में बारिश हुई. दिन भर यहां उमस थी लेकिन दोपहर बाद कई शहरों में तेज़ आंधी के बाद बारिश शुरू हो गई. इस दौरान कई जगहों पर पेड़ गिरने की घटना भी सामने आई तो कहीं टिन के शेड उड़ गए. मौसम विभाग के मुताबिक तौकते तूफान के चलते मध्यप्रदेश के बड़े हिस्से पर बादलों का डेरा है जो नमी बना रहे हैं और इसके बाद बारिश हो रही है.

मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

ताऊ-ते तूफान के कारण बनी स्थितियों को देखते हुए भोपाल मौसम केंद्र ने उज्जैन, इंदौर, भोपाल, जबलपुर, सागर, शहडोल, होशंगाबाद, ग्वालियर और चंबल संभाग के अलावा सतना और रीवा जिलों में बारिश और चमक गरज के साथ बौछारों का पूर्वानुमान जताया है.

गोवा में दो की मौत

चक्रवात तौकते के चलते गोवा में भारी नुकसान हुआ है. गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने बताया कि चक्रवात के चलते सूबे में दो लोगों की मौत हुई है. अलग-अलग जगहों पर हुए हादसों में दो लोगों ने जान गंवाई है. एक शख्स पर पेड़ गिर गया. वहीं बाइक से जा रहे दूसरे शख्स पर बिजली का पोल गिरने से उसकी मौत हो गई. सीएम सावंत ने कहा कि चक्रवात के चलते मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है.

उन्होंने बताया कि 100 से ज्यादा घर बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए हैं. जबकि 100 से ज्यादा घरों को हल्का नुकसान पहुंचा है. पांच सौ से ज्यादा पेड़ गिरने की सूचना है. गोवा के अधिकांश इलाकों में बिजली नहीं है. कई सड़कें ब्लॉक हैं. हालात सामान्य होने में दो दिन का समय लगेगा. चक्रवात के चलते गोवा में एयरपोर्ट भी बंद कर दिया गया है. सूबे में भारी बारिश और तेज हवा 17 मई तक जारी रहेगी.

चक्रवाती तूफान तौकाते का रीवा मे भी दिख सकता है असर

रीवा – देश बने तौकाते चक्रवाती तूफान का असर रीवा जिले में भी पड़ सकता है उक्त आशय की जानकारी देते हुए कृषि विज्ञान केन्द्र रीवा के संदीप कुमार शर्मा ने बताया कि भोपाल ,इंदौर ,उज्जैन, जबलपुर, रीवा संभागों के चक्रवात तौकाते से प्रभावित होने की आशंका है, जो 16 मई को गुजरात से टकराने के बाद गुना, शिवपुरी, छिंदवाड़ा, सिवनी और बालाघाट के अलावा, शहडोल, उमरिया, पन्ना, दमोह और टीकमगढ़ में बारिश होगी अगले 24 घंटे अरब सागर के ऊपर बन रहा चक्रवात अब मध्य पूर्व क्षेत्र से चक्रवात में बदल गया है
लगभग 24 घंटे तक समुद्र के ऊपर मंडराने के बाद उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है गुजरात तट से टकराने की संभावना है बताया जा रहा है कि इसके प्रभाव से राजधानी समेत मध्य प्रदेश के कई जिलों में गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं और साथ – साथ रीवा जिले में 18-19 मई को घने बादल रहने के साथ -साथ तेज हवा( आंधी )गरज चमक के साथ बिजली गिरने वा बारिश होने का पूर्वानुमान है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here