मौसम विभाग ( IMD ) के अनुसार देश के इन राज्यों में 8 सितंबर से भारी बारिश एवं बिजली गिरने की सम्भावना

0
200

संवाद news नेटवर्क – भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक अगले सप्ताह उत्तराखंड, पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य प्रदेश, गुजरात, विदर्भ और पूर्वी राजस्थान में मानसून सक्रिय रहेगा, जिससे इन क्षेत्रों में बरसात की संभावना है। इसका सीधा असर खरीफ सीजन की खेतों में खड़ी प्रमुख फसल धान पर पड़ेगा। इसमें सिंचाई करने की जरूरत नहीं पड़ेगी। हालांकि अगले एक सप्ताह तक पंजाब, हरियाणा और पश्चिम उत्तर प्रदेश में छिटपुट बरसात की ही संभावना है। मौसम उमसभरा रहेगा। बीते सप्ताह मानसून का असर थोड़ा कम देखा गया। अधिकांश शहरों में उमस और गर्मी का अनुभव हुआ। खासतौर से मध्य भारत में उमस ने लोगों को बेहाल कर दिया है। 7 सितंबर से शुरू हुए नए सप्ताह के साथ लोगों को इस मौसम से राहत मिलने की उम्मीद नज़र आ रही है क्योंकि मौसम के जानकारों ने इस सप्ताह अच्छी बारिश का अनुमान जताया है।

इस सप्ताह के दौरान उत्तर भारत में मौसम बहुत कम सक्रिय रहेगा। पहाड़ी राज्यों में केवल उत्तराखंड और मैदानी राज्यों में उत्तर प्रदेश में पूरे सप्ताह बारिश और गरज के साथ बारिश होगी। स्कायमेट वेदर का कहना है कि कुछ राज्यों में तेज बारिश के साथ ही आकाशीय बिजली गिरने का भी खतरा है। इसके अलावा कुछ राज्यों में 8 और 9 सितंबर को भारी बारिश हो सकती है। जानिये देश में कहां कैसा मौसम रहेगा।- बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश में बारिश कुछ स्थानों पर शुरू होगी। पूर्वोत्तर राज्यों में भी वर्षा के आसार हैं। साथ ही झारखंड, पश्चिम बंगाल, उत्तराखंड, पूर्वी राजस्थान, महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल में वर्षा होने की संभावना है।- पूर्वी राजस्थान के कुछ हिस्सों में 7, 8 और 9 सितंबर को हल्की से मध्यम बारिश की उम्मीद है। सप्ताह के अंत तक, या अगले सप्ताह की शुरुआत में पश्चिमी राजस्थान से मॉनसून की वापसी शुरू हो सकती है। – इस सप्ताह के दौरान सिक्किम, असम, मेघालय और अरुणाचल प्रदेश में भी भारी वर्षा होने की संभावना है। पूर्वोत्तर भारत के बाकी राज्यों में मध्यम बारिश से अधिक की उम्मीद नहीं है।
इस सप्ताह बिहार, झारखंड और उत्तरी बंगाल में काफी व्यापक बारिश होगी। कुछ भागों में बिजली गिरने और गरज के साथ भारी वर्षा होने की भी आशंका है।- 10 से 13 सितंबर के बीच छत्तीसगढ़ और ओडिशा में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। सप्ताह के मध्य से मध्य प्रदेश, विदर्भ, मराठवाड़ा और मध्य महाराष्ट्र में वर्षा की गतिविधियां बढ़ने की संभावना है।- कोंकण क्षेत्र में मॉनसून की सक्रियता बनी रहेगा। मुंबई सहित कोंकण गोवा क्षेत्र में सप्ताहांत में कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है।- कर्नाटक, केरल, रायलसीमा और तमिलनाडु के अंदरूनी इलाकों में मुख्यतः बारिश होगी। बेंगलुरु, मैसूरु, मैंगलोर, कोच्चि, त्रिवेंद्रम, कोयम्बटूर और सलेम में गरज के साथ बारिश होगी।

सितंबर में हो सकती है औसत से अच्छी बारिश

सितंबर का महीना खेती के लिहाज से बहुत अच्छा होने वाला है। इस दौरान पूरे देश में मानसून की अच्छी बारिश का पूर्वानुमान जताया गया है। बंगाल की खाड़ी में इसी सप्ताह एक और निम्न दबाव का क्षेत्र बनने लगा है, जिससे मध्य भारत में मानसूनी बारिश की सक्रियता फिर बढ़ जाएगी। पश्चिमोत्तर भारत में इस सप्ताह बरसात होने की संभावना नहीं के बराबर है। जबकि पूर्वी उत्तर प्रदेश में अच्छी बारिश की संभावना है।

आइएमडी के मुताबिक सितंबर का पहला सप्ताह आमतौर पर सूखा रहा है। इस दौरान कहीं-कहीं छिटपुट बरसात ही हुई है। लेकिन मानसून अपने अंतिम चरण में सक्रिय है और उसके समापन तक औसत या औसत से ज्यादा बरसात के साथ हो सकता है। आखिरी चरण में पूर्वी राज्यों में सक्रियता बढ़ेगी। गंगा प्रक्षेत्र से जुड़ी जगहों पर भारी व व्यापक बरसात होगी। खासतौर पर बिहार, झारखंड और बंगाल के उत्तरी इलाकों में भारी बरसात हो सकती है। पूर्वोत्तर के राज्यों में मेघालय, सिक्किम, असम और अरुणाचल प्रदेश में भी भारी बारिश की संभावना जताई गई है। पूर्वोत्तर के बाकी राज्यों में हल्की से मध्यम बारिश की उम्मीद की जा रही है।

अगले चार पांच दिन आकाशी बिजली को लेकर अलर्ट जारी

अगले चार पांच दिनों में पूर्वी उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार और झारखंड के साथ समूचे मध्य भारत में व्यापक बरसात की संभावना है। इस दौरान 10 और 11 सितंबर को आकाशीय बिजली गिरने को लेकर सर्वाधिक संवेदनशील क्षेत्र बिहार, झारखंड, ओडिशा और गुजरात में अलर्ट जारी कर दिया गया है। इन राज्यों में बिजली गिरने की आशंका है।

मध्य भारत में हो सकती है मध्यम बारिश

देश के मध्य क्षेत्र में अगले एक सप्ताह तक मध्यम से भारी बारिश का अनुमान है। मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र के विदर्भ, मराठवाड़ा और मध्य महाराष्ट्र और गुजरात के कुछ हिस्सों के साथ राजस्थान में भी मानसून की बरसात होगी। हालांकि इसी दौरान पश्चिमी राजस्थान से मानसून लौटने की दिशा में हो जाएगा।

दक्षिणी राज्यों में अगले सप्ताह के दौरान कर्नाटक, तमिलनाडु, पुडुचेरी और केरल में मूसलाधार बारिश का अनुमान है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here