एनटीपीसी की दो मालगाड़ी की आमने सामने भीड़न्त में तीन की मौत हादसे में करोड़ो रुपये की राजस्व क्षति,सिंगरौली से संवाद न्यूज ब्यूरो गोबिन्द राज की रिर्पोट

0
229

सिगरौली – अमलोरी से रिहन्द नगर एनटीपीसी कोयला लेकर जा रही मालगाड़ी मालगाड़ी गनियारी के पास बने रेलवे ट्रैक चेंजिंग पॉइंट में रिहंद नगर से आ रही खाली मालगाड़ी से टकरा गई। जिसमें दबने से तीन कर्मचारी की मौके पर ही मौत हो गई। मिली जानकारी अनुसार रविवार की सुबह करीब 4 : 30 बजे अमलोरी से रिहंदनगर की ओर कोयला लेकर जा रही मालगाड़ी रास्ते में गनियारी के समीप ट्रैक चेंजिंग पॉइंट के पास रिहंद नगर एनटीपीसी की ओर से खाली मालगाड़ी की आमने सामने से जोरदार भिड़ंत हो गई। जिसमें रशीद अहमद उम्र 65 वर्ष निवासी. चुनार मिर्जापुर,उ.प्र. लोको ड्राइवरए दूसरा. रामलक्ष्मन बैस पिता रामगोपाल उम्र 27 वर्ष निवासी. चरगोड़ा सिंगरौली एवं मनदीप कुमार प्रजापति उम्र 25 वर्ष रावर्टसगंज सोनभद्र,उ.प्र.। बचाव कार्य के दौरान तीनों का शव बाहर निकाला गया। घटना की सूचना मिलने के बाद एनटीपीसी एवं प्रशासनिक अधिकारियों में हड़कम्प मच गया। घटना स्थल पर एनटीपीसी के अधिकारी सिंगरौली एसडीएम. ऋषि पवारए सिंगरौली तहसीलदार. जीतेंद्र वर्माए सीएसपी. देवेश कुमारए बैढन टीआई अरुण पाण्डेयए विन्ध्यनगर टीआई . राघवेंद्र द्विवेदी नवानगर टीआई मौके पर पहुंच कर फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए बचाव कार्य शुरु कर दिया। व एनटीपीसी के अधिकारियों द्वारा मृतक के परिजनो को 25 . 25 हजार रुपये अंतिम संस्कार हेतु दिये जाने कि बात कही गई। तत्काल एनटीपीसी द्वारा दी जायेगी और साथ ही 10 से 15 दिन के अंदर सहायता राशि ₹1 लाख दी जायेगी और आगे मिलने वाले इंश्योरेंश वगैरह नियमानुसार एसडीएम सिंगरौली श्री पवार द्वारा बताया गया और साथ में दुर्घटना कैसे हुई घटना की जांच उच्च स्तरीय जाँच करवायी जायेगी । सिग्नल देने में हुई लापरवाही जानकारो की माने तो रिहंद नगर से अमलोरी की तरफ आ रही खाली मालगाड़ी जब रेलवे चेनजिंग प्वाइंट गनियरी को क्रास कर लेती हैं तब अमलोरी की तरफ से आ रही मालगाड़ी ट्रेन को सिग्नल देना था। मगर सिग्नल पहले ही दे दिया गया जिससे हादसा हुआ। हालांकि एन टी पी सी के आग्रह भारतीय रेल सभी तरह की सहायताए जिसमे एक 140 टन क्रेन भी हैएप्रदान कर रही है ताकि उस ट्रैक पर जल्द से जल्द आवागमन पुनः संचालित हो सके।घटना की जांच एन टी पी सी करेगी पूर्व मध्य रेल के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी राजेश कुमार ने जारी बयान में बताया कि घटना की जांच एन टी पी सी द्वारा की जा रही है। एन टी पी सी रिहंद में मालगाड़ियों के आपस में टकराने की घटना से सम्बन्धित उन्होने बताया कि ये एनटीपीसी रिहंद में एमजीआर यानी मेरी गो राउण्ड में चलने वाली मालगाड़ियों की टक्कर है। इन ट्रेनों के परिचालन से संबंधित सारे एक्टिविटी एन टी पी सी रिहंद द्वारा संचालित होती हैं। सिग्नल इंजिन इनके रख रखाव सारी जिम्मेवारियां एन टी पी सी रिहंद के कंधों पर हैं। सारे अधिकारी और कर्मचारी भी एन टी पी सी रिहंद के ही होते हैं। ये रेलवे की मालगाड़ियों की नही थी। रविवार की सुबह 4:30 बजे ये दुर्घटना हुई जिसमें तीन कर्मचारी हताहत हुए। एक लोको ड्राइवरएएक असिस्टेंट लोको ड्राइवर और एक पॉइंटमैन। ये सभी इंडियन रेलवे के कर्मचारी नही थे। भारतीय रेलवे को इस घटना से कोई लेना देना नही है। इस घटना की जांच एन टी पी सी द्वारा की जा रही है। हालांकि एन टी पी सी के आग्रह भारतीय रेल सभी तरह की सहायताए जिसमे एक 140 टन क्रेन भी हैएप्रदान कर रही है ताकि उस ट्रैक पर जल्द से जल्द आवागमन पुनः संचालित हो सके।

गोबिन्द राज, ब्यूरो संवाद न्यूज सिंगरौली

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here