दमोह मे एड्स जागरूकता कार्यक्रम आयोजित,दमोह से संवाद न्यूज के लिए मोहन पटेल की रिपोर्ट

0
32

दमोह : 09 दिसंबर 2019

राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली एवं म.प्र.राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जबलपुर द्वारा दिये गये निर्देशों के तहत 02 दिसंबर से 06 दिसंबर तक एड्स जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किये जाने के दिशा-निर्देश अनुसार प्रिंसिपल जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण शंभू सिंह रघुवंशी के मार्गदर्शन में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दमोह द्वारा भिन्न-भिन्न स्थानों पर आयोजन किये गये।


उक्त श्रृंखला में जिला चिकित्सालय दमोह के नवीन भवन के प्रथम तल पर कार्यशाला का आयोजन किया गया। तत्पचात एडीआर भवन दमोह के सभाकक्ष में राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देशानुसार समस्त पीएलव्ही को सदस्य सचिव, विशेषज्ञ डा. नमिता पाराशर, इंचार्ज एआरटी सेंटर नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडीकल कालेज, सुनील शर्मा, डीपीओ जिला क्षय एवं एड्स नियंत्रण कार्यालय, सीमांत ढिमोले, जिला पी.एम.डी.टी. कार्डिनेटर द्वारा वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से एड्स पीड़ितों के प्रति संवेदनशील बनाये जाने हेतु व्याख्यान दिया गया का श्रवण कराया गया। दिनेश असाटी एवं चेतना असाटी परामर्श दात्रा आई.सी.टी.सी. दमोह का उद्बोधन उपस्थित पैरालीगल वालेंटियर्स के मध्य उक्त विषय पर कराया गया।
जिला जेल दमोह में बंदियों का रक्त परीक्षण जिला चिकित्सालय दमोह के सहयोग से किया गया।
इसी श्रृंखला में शासकीय उच्च्तर माध्यमिक विद्यालय इमलियाघाट में सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दमोह माखनलाल झोड़, जिला विधिक सहायता अधिकारी रजनीश चैरसिया द्वारा एड्स जागरूकता विषय पर आयोजन कर लगभग 400 से अधिक बच्चों को एड्स के 4 सोपानों के संबंध में जानकारी दी गयी। शरीर में एड्स के वायरस कैसे प्रवेश करते हैं, को बताते हुये सावधानियां समझाई गयी तथा बिस्किट पैकिट वितरित किये गये।
इसी दिनांक को इमलियाघाट में साप्ताहिक बाजार लगता है। विद्यालय कार्यक्रम के पश्चात बाजार क्षेत्र में स्थानीय सरपंच इमरती बाई, सचिव ग्राम पंचायत, रोजगार सहायक, पीएलव्ही अजय सिंह लोधी के साथ एड्स जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन कर ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले आमजन को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दमोह द्वारा छपवाये गये द्विपृष्ठीय पम्पलेट्स का वितरण कराया गया, एड्स से बचाव बावत् विषय पर उन्हें सम्बोधित किया गया तथा जो लोग घर में और गांव में है उन्हें भी वितरित पम्पलेट्स पढ़वाकर जगरूक करने हेतु निवेदन किया गया। एड्स के घातक परिणामों से भी उपस्थित जनसमुदाय को सावधान रहने हेतु बताया गया।
विद्यालय में कार्यक्रम के समापन के पश्चात प्रभारी प्राचार्य श्री मोहन सिंह ठाकुर द्वारा आभार व्यक्त किया गया तथा बाजार क्षेत्र में सचिव ग्राम पंचायत इमलियाघाट द्वारा आभार व्यक्त किया गया।
उक्त श्रृंखला में शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान मारूताल दमोह के भवन में एड्स जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में लगभग 150 छात्र/प्रशिक्षु ने रजनीश चैरसिया, जिला विधिक सहायता अधिकारी तथा माखनलाल झोड़, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण दमोह के उद्बोधन को सुना उक्त दोनों वक्ताओं ने एड्स विषय के साथ ही आईटीएक्ट, घरेलू हिंसा से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम, पॉक्सो एक्ट के महत्वपूर्ण प्रावधानों को बताते हुये स्त्री कैसे एड्स के प्रकोप से ग्रसित हो जाती है तथा बचाव ही सबसे सुंदर रास्ता होना बताया। कार्यक्रम का आभार प्रदर्शन अधीक्षक डीसी लोधी द्वारा किया गया।

मोहन पटेल, संवाददाता दमोह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here