भव्य भारत एकात्मता यात्रा का हुआ जोरदार स्वागत, बिलासपुर से संवाद न्यूज ब्यूरो मुकेश भारत की रिपोर्ट

0
116

वतन की शहादत को मिली सच्ची श्रद्धांजलि

भव्य भारत एकात्मता यात्रा का नगरवासियों ने किया जोरदार स्वागत

जम्मू-काश्मीर में लागू अनुच्छेद 370 व 35a का मोदी सरकार द्वारा निष्क्रिय किए जाने पर जहां चारों और पूरे भारतवर्ष में खुशी और उल्लास का माहौल है वही जम्मू कश्मीर अध्ययन केंद्र को भी किए गए प्रयास का साधुवाद देने के लिए आज पूरे नगर ने हृदय से आभार व्यक्त किया इसी कड़ी में जम्मू कश्मीर अध्ययन केंद्र के द्वारा भारत एकात्मक यात्रा निकाल कर इस अभूतपूर्व उपलब्धि पर खुशी का इजहार करते हुए नगर वासियों के साथ स्थित गांधी चौक से एक भव्य यात्रा का आरंभ किया गया जो कि नगर के विभिन्न मार्गो से होते हुए देवकीनंदन चौक पहुंचा वहां पर उसका समापन हुआ।

ज्ञात हो कि जम्मू कश्मीर अध्ययन केंद्र के द्वारा इस धारा पर निरंतर पूरे देश में होने वाली विसंगतियों पर समय-समय पर कार्यक्रमों द्वारा देश में इस अनुचित धारा से होने वाले नुकसान के बारे में अवगत कराया वही इन धाराओं का विरोध भी किया जम्मू कश्मीर में प्रताड़ित देशवासियों को इस धारा से निजात दिलाने का जो अथक प्रयास निरंतर कई वर्षों से किया उसके फल स्वरूप एक सफल विजय मिली इसी कड़ी में इस संस्था द्वारा देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा गृहमंत्री अमित शाह को बधाई देते हुए एक विजय जुलूस के रूप में संदेश दिया। इस यात्रा में पूरे नगर को जैसे एक कड़ी में समुदाय के रूप में जोड़ दिया वही नगर के व्यापारी गणों ने भी इस यात्रा की सराहना की विगत दिनों मोदी सरकार द्वारा दिए गए कठिन फैसले पूरे देश हित के लिए किए गए प्रयास का देश ने एक स्वर में समर्थन किया वही इस संस्था के प्रयासों को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता इस संस्था के प्रत्येक सदस्य ने इस विसंगति रूपी धारा का हर बार पुरजोर विरोध किया और देश हित में इसे निष्क्रिय करने का जो बीड़ा उठाया था वह अब जाकर पूरा हुआ जम्मू कश्मीर अध्ययन के छत्तीसगढ़ प्रांत के सरंक्षक डॉ. निर्मल शुक्ला तथा प्रांत सचिव ब्रेजेंद्र शुक्ला को पूरे नगर ने बधाई देते हुए देशहित के लिए सदैव एकजुट हो तत्पर रहने की प्रतिज्ञा ली।

इस भारत एकात्मता यात्रा में मुख्यरूप से जम्मू-काश्मीर अध्ययन केंद्र के सदस्यों के अलावा नगर के सैकड़ों नागरिकों और प्रभुत्वशाली वर्ग तथा व्यापारी वर्ग ने बढ़ चढ़ के हिस्सा लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here