रीवा मे 9 और कोरोना योद्धा हुऐ ठीक, जिले में 33 मे 22 ने जीती कोरोना की जंग, कमिश्नर, कलेक्टर ने पुष्प वर्षा कर किया स्वागत

संवाद न्यूज एमडी कमलेश कुशवाहा द्वारा

0
10


पुष्पवर्षा करके कोरोना से मुक्त हुये 9 व्यक्तियों को किया गया उनके घर रवाना,पूरे विंध्य क्षेत्र को शीघ्र ही कोरोना संक्रमण से मुक्त बनायेंगे – कमिश्नर डॉ. भार्गव

रीवा 01 जून 2020. पूरे विंध्य क्षेत्र में कोरोना वायरस से बचाव के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। डॉक्टरों तथा नर्सों के अथक प्रयासों से कोरोना पीड़ित रोगियों के पूरी तरह से स्वस्थ्य होने का क्रम जारी है। जिला चिकित्सालय रीवा से आज 9 कोरोना से मुक्त हुए व्यक्तियों को उनके घर के लिए रवाना किया गया। रीवा संभाग के कमिश्नर डॉ. अशोक कुमार भार्गव एवं कलेक्टर बसंत कुर्रे ने कोरोना से युद्ध जीतने वाले इन 9 विजेताओं पर पुष्पवर्षा करके तथा करतल ध्वनि से स्वागत किया। कमिश्नर डॉ. भार्गव ने स्वस्थ्य हुये सभी व्यक्तियों से कोरोना से बचाव की सावधानी बरतने की सलाह देते हुए कहा कि नियमित रूप से व्यायाम योग अभ्यास करें। आयुर्वेद विभाग द्वारा दिये गये त्रिकुट काढ़ा का नियमित सेवन करें इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है। घर से बाहर निकलते समय मास्क अनिवार्य रूप से लगायें। इसके साथ-साथ फिजिकल डिस्टेंसिंग तथा कोरोना से बचाव के सभी सुरक्षात्मक उपाय का पालन करे। 
कमिश्नर डॉ. भार्गव ने कहा कि रीवा संभाग सहित पूरे विंध्य क्षेत्र में लम्बे समय तक अपने को कोरोना संक्रमण से बचाकर रखा। प्रवासी मजदूरों तथा अन्य व्यक्तियों के बड़ी संख्या में आगमन के बाद कोरोना का संक्रमण बढ़ा हमने कोरोना से बचाव तथा उपचार की पूरी तैयारी पहले से की थी। मेडिकल कालेज तथा अन्य अस्पतालों में उपचार के लिए पर्याप्त बेड उपलब्ध हैं। कोरोना के सैंपल की जांच में भी तेजी आयी हैं। पूरे संभाग में अब तक कोरोना संक्रमण के 84 मामले सामने आये हैं। इनमें से अब तक 33 व्यक्ति स्वस्थ्य होकर अपने घर जा चुके हैं। शेष रोगियों का डॉक्टरों द्वारा अच्छी तरह से उपचार किया जा रहा है उन सब के भी निर्धारित अवधि पूरा होने पर पूरी तरह से स्वस्थ्य होने की उम्मीद है। पूरे विंध्य क्षेत्र को हम शीघ्र ही कोरोना संक्रमण से मुक्त बना लेंगे। कोरोना से स्वस्थ्य हुये सभी व्यक्तियों ने अस्पताल में दी गयी चिकित्सा सुविधाओं, भोजन तथा आवास व्यवस्थाओं की खुले मन से सराहना की है।
इस अवसर पर कलेक्टर श्री कुर्रे ने कहा कि जिले में अब तक प्रवासी मजदूरों सहित लगभग 70 हजार व्यक्ति जिले में वापस लौटे हैं इन सबकी रेलवे स्टेशन तथा अस्थाई शिविरों एवं क्वारेंटाइन सेंटरों में नियमित रूप से स्वस्थ्य की जांच करायी गयी। जिनमें से 33 व्यक्ति कोरोना से पीड़ित पाये गये। शासन के निर्देशों के अनुसार कोरोना संक्रमण से बचाव के सुरक्षात्मक उपायों के साथ इन व्यक्तियों का उपचार कराया गया। इनके पूरी तरह से स्वस्थ्य होने का क्रम जारी है अब तक 22 व्यक्ति पूरी तरह से ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। अभी जो व्यक्ति क्वारेंटाइन सेंटर में हैं उनके स्वास्थ्य की नियमित जांच की जा रही है यदि कोई व्यक्ति कोरोना संक्रमण से पीड़ित मिला तो उसे तत्काल उपचार सुविधा दी जायेगी। कोरोना का समय पर उपचार हो तो व्यक्ति तेजी से स्वस्थ्य होता है। कलेक्टर ने पूरे जिले में कोरोना से बचाव तथा उपचार निरंतर अथक परिश्रम कर रहे डॉक्टर, उनके सहयोगी तथा अन्य सभी व्यक्तियों के प्रयासों की सराहना की तथा बधाई दी।
कोरोना से पूरी तरह से स्वस्थ्य हुये सभी व्यक्तियों के चेहरे पर कोरोना से जीतने और घर लौटने की दोहरी खुशी छलक रही थी। सिंगरौली जिले तथा रीवा जिले के स्वस्थ्य हुये रोगियों ने डॉक्टरों तथा उनका उपचार करने वाले अन्य कर्मचारियों के प्रति आभार व्यक्ति किया। सिंगरौली जिले के कोरोना से मुक्त हुए व्यक्ति ने कहा कि अस्पताल मे नियमित रूप से दवायें, अच्छी देखभाल तथा अच्छा भोजन मिला, डॉक्टरों की मेहनत के कारण हम बहुत जल्दी स्वस्थ्य हो गये। हमें सुबह शाम योग अभ्यास भी कराया गया। हम अस्पताल द्वारा दी दवाओं तथा टानिक का दिये गये निर्देशों के अनुसार उपयोग करेंगे। 
इस अवसर पर आयुर्वेद कालेज के डीन एवं प्राचार्य डॉ. दीपक कुलश्रेष्ठ, संयुक्त संचालक स्वास्थ्य डॉ. अनन्त मिश्रा, उप संचालक डॉ. एनपी पाठक, उप संचालक डॉ. संजीव शुक्ला, डॉ. पी.के. लखटकिया, डॉ. मनोज इन्दुलकर, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आरएस पाण्डेय, डॉ. अक्षय श्रीवास्तव तथा अन्य चिकित्सक उपस्थित रहे।
सुरेन्द्र कुसमाकर”श्रीमाली”सम्पादक संंवाद न्यूज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here