समाजसेवी राजकुमार सिंह तिवारी ने कोटा से छात्रों को वापस लाने एवं संकट की घड़ी में प्रदेश के जनता की मदद करने प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री का दिया धन्यवाद,मनिकवार से शैलेन्द्र जायसवाल की रिर्पोट

0
16

धन्यवाद शिवराज परिषद करेगा सम्मान एवं देगा विंध्य रत्न पुरस्कार अंतरराष्ट्रीय अधिवक्ता चौहान का पूरे विंध्य प्रदेश की जनता की ओर से आभार आशीर्वाद व्यक्त करते हुए बधाई दी एवं कहा कि संकट की इस घड़ी में विंध्य के छात्रों को कोटा से सकुशल वापस लाने में जो तत्परता संवेदनशीलता उन्होंने दिखाई है वह बेहद सराहनीय है ऐसा संकट मोचन मुख्यमंत्री मिलना प्रदेश के लिए गौरव का विषय है उन्होंने अपने सुकृत्य से शिवराज आए रामराज लाए की परिकल्पना प्रदेश में साकार कर दिया है परिषद उनकी भूर भूर प्रशंसा करता है एवं बधाई देता है तथा उनके इस महान कार्य हेतु विंध्य रत्न पुरस्कार प्रदान कर उनका नागरिक अभिनंदन कर सम्मानित करेगा परिषद द्वारा रीवा कलेक्टर श्री बसंत कुर्रे जी का भी सम्मान किया जाएगा उन्होंने जिस तत्परता एवं कुशलता से छात्रों को लाने हेतु शासन के निर्देशों के तहत कार्य किया है वह काफी प्रशंसनीय है आज समूचा जिला उनका आभारी है श्री तिवारी ने माननीय मुख्यमंत्री जी से अनुरोध किया है कि वह संकट की इस घड़ी में अन्नदाता किसानों के कृषि ऋणों को तुरंत माफ करें एवं किसानों का एक करोड़ का बीमा सहित 1000000 रुपए सम्मान निधि प्रदान करें एवं महामारी से निपटने में अपनी जान जोखिम में डालकर सेवारत चिकित्सक स्वास्थ्य कर्मी पुलिस व्यापारी सफाई कर्मी सब्जी फल व्यवसाई एवं प्रशासनिक अधिकारियों कर्मचारियों सहित आवश्यक सेवा में लगे हुए संपूर्ण कर्मचारियों को पूर्ण सुरक्षा एवं उचित सम्मानित प्रदान करने का भी अनुरोध किया है साथ ही साथ विंध्य जहां से भाजपा की सर्वाधिक सीटें प्राप्त हुई हैं मंत्रिमंडल में उचित प्रतिनिधित्व प्रदान करने का अनुरोध किया है ताकि विंध्य प्रदेश के विकास कार्य सुचारू रूप से चलते रहे श्री तिवारी द्वारा माननीय प्रधानमंत्री जी एवं संघ का भी आभार व्यक्त किया कि उन्होंने प्रदेश को चौथी बार भी शिवराज सिंह जैसा संवेदनशील मुख्यमंत्री प्रदान किया है महामृत्युंजय भगवान की पावन नगरी सफेद शेरों की जननी श्री चौहान के सुकृत हेतु उनका सदैव आभारी रहेगा श्री तिवारी ने कहा की न्याय दान के सजग प्रहरी न्यायपालिका के अधिकारी बुद्धिजीवी अधिवक्ताओं के जरूरतों आवश्यकताओं को मद्देनजर 20 लाख रुपया प्रदान करें अधिवक्ता सुरक्षा कानून लागू करें ताकि न्याय दान सुचारू रूप से चलता रहे एवं कहां की पूर्व में घोषित संकल्प अनुसार वैश्विक संकट से लड़ने वाले समस्त जनों की मुकदमों की पैरवी निशुल्क किया जाएगा

शैलेन्द्र जायसवाल, पत्रकार मनिकवार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here