स्टेट बैंक सलेहा के कैशियर पर लगा ग्रहकों से अभद्रता करने का आरोप, सलेहा से संवाद न्यूज के लिए सुशील बर्मन की रिपोर्ट

0
102

कैशियर की मनमानी व अभद्रता पूर्ण रवैया से ग्राहक परेशान

👉 ग्राम पंचायत सचिव ने शिकायती आवेदन देकर कैशियर अमित सौरव पर अभद्रता पूर्ण बात करने का लगाए आरोप

👉 भारतीय स्टेट बैंक शाखा सलेहा की सुर्खियों में रहने की आदत सी है

सलेहा न्यूज :-भारतीय स्टेट बैंक शाखा सलेहा में कर्मचारियों के द्वारा ग्राहक से अभद्रता पूर्ण व्यवहार रखने व समय पर कार्य न करना , ग्राहकों के 5 मिनट के कार्य में महीनों भटकाना , कई बार दस्तावेज मंगाना और सुर्खियों में रहने की तो जैसे इन्हें आदत सी पड़ गई है ऐसा ही एक मामला सामने आया है। भारतीय स्टेट बैंक शाखा सलेहा में पदस्थ कैसियर अमित सौरव के ऊपर अभद्रता पूर्वक बातें करने का आरोप ग्राम पंचायत छिजौरा सचिव कौशलेंद्र चौरसिया द्वारा लगाया गया है। ग्राम पंचायत छिजौरा सचिव कौशलेंद्र चौरसिया निवासी कटरा द्वारा बताया गया कि मेरा भारतीय स्टेट बैंक शाखा सलेहा में 12 वर्षों से खाता संचालित है जिसका खाता क्रमांक 3038 1056 466 है वर्तमान में मेरा एटीएम कार्ड बंद हो जाने के कारण गत माह दो बार आवेदन देने के बाद भी कैसियर अमित सौरव के द्वारा उस पर कुछ नहीं किया गया जिस के संबंध में बैंक मैनेजर को भी मौखिक रूप से बताया गया जिस पर अमित सौरव ने कहा कि एक बार फिर से आवेदन दे दीजिए तो मेरे द्वारा कहा गया कि हम कितनी बार आवेदन दे तो अमित सौरव से जवाब मिला जितनी बार मांगेंगे उतनी बार देना पड़ेगा और बोले हट जाओ यहां से मुझे पता है कि बैंक कैसे चलाना मुझे सिखाने की जरूरत नहीं है इसके बाद मेरे द्वारा दिनांक 18 सितंबर 2019 को दोबारा आवेदन दिया गया एवं मैंने आग्रह किया कि आज ही फीड कर दीजिए साथ ही मोबाइल नंबर बदलने का आग्रह किया गया जिस पर कैसियर साहब भड़क गए और बोले हट जा यहां से जैसे अभद्रता पूर्ण व अपमानजनक बातें की साथ ही मौजूद गार्ड से भी कहा कि इसको बाहर निकालो उक्त स्थिति में मेरे द्वारा कार्यालयीन मर्यादा को ध्यान में रखते हुए उससे कुछ नही कहा और घर चला गया। इनके द्वारा कभी पावती भी नही दी जाती है जो कि नियम विरुद्ध है। कैसियर अमित प्रतिदिन ग्राहकों से अभद्रता पूर्ण बातें करते हैं एवं कल कल कह के 5 मिनट के कार्य को महीनों नही करते बताया गया कि इसकी पुष्टि शाखा में आकर प्रतिदिन आनेवाले ग्राहकों से की जा सकती है। इनके क्रियाकलापों के बारे में शाखा प्रबंधक से भी मौखिक रूप से कई बार कहा गया है एवं आज लिखित में दिया गया किन्तु कार्यवाही नही हुई और न ही समझाईश दी गई। कैसियर अमित सौरव का कार्यव्यवहार एवं बोलने की भाषा हमेशा ऐसी होती है जिससे ग्राहक अपनेआप को अपमानित व ठगा सा महसूस करता है।इसके कार्यव्यवहार से किसी भी दिन यदि कोई विवाद होता है तो इसके लिए बैंक शाखा परिवार जिम्मेदार होगा अन्यथा की स्थिति में पुलिस केस या मानव अधिकार की शरण में जाने के लिए मैं और अन्य ग्राहक मजबूर होंगे। ग्राम पंचायत छिजौरा सचिव कौशलेंद्र चौरसिया द्वारा शाखा प्रबंधक सलेहा एवं जनरल मैनेजर भोपाल , प्रभारी अधिकारी आरबीओ कार्यालय दमोह , लीड बैंक मैनेजर पन्ना को शिकायती आवेदन दिया। आवेदन के माध्यम से निवेदन किया है कि कैसियर अमित सौरव के विरुद्ध जांच कमेटी गठित कर कार्यवाही की जाए एवं यहां से इसका स्थानान्तरण कराने के लिए कहा गया है जिससे ग्राहकों में सन्तुष्टि बनी रहे। और अब जो कैसियर आये वो ऐसा होना चाहिये जिसका कार्यव्यवहार अच्छा व ग्राहकों से प्रेमपूर्वक व्यवहार रखें। भारतीय स्टेट बैंक शाखा सलेहा की व्यवस्थाएं भगवान भरोसे चल रही हैं। कैसियर अमित सौरव के द्वारा हर ग्राहक को धुत्कार कर भगा दिया जाता है। इनका कहना है कि यहां मेरा राज चलता है। जिसके कारण ग्राहक मजबूर होकर बैंक आना बंद कर देते हैं। ऐसे में कैसे होगा बैंक का सपना साकार। शाखा प्रबंधक समेत जनरल मैनेजर तक शिकायती आवेदन पहुंचने के बाद अब देखना यह है कि कैसियर अमित सौरव की मनमानी पर जिम्मेदार अधिकारी लगाम लगा पाते हैं या नही। यह तो आने वाला समय ही बताएगा। यदि कैसियर अमित सौरव के ऊपर कार्यवाही नही होती तो ग्राहक अपने आप को हमेशा ठगा सा महसूस करते रहेंगे और कैसियर कि तरह अन्य कर्मचारियों के भी हौंसले बुलंद होंगे और वो भी इसी तरह अभद्रता पर उतर आएंगे। जिम्मेदार कर्मचारियों को चाहिए कि ऐसे कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही कर इन्हें बैंक से बाहर का रास्ता दिखाया जाए।
सलेहा से संवाद न्यूज के लिए सुशील बर्मन की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here