भिंड सड़क हादसे में मृतकों के परिजनों को 4- 4 लाख और घायलों को 50-50 हजार की मदद राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री राजपूत ने जताया हादसे पर गहरा दुःख दिए जांच के निर्देश संवाद न्यूज़ प्रबंध संपादक विजय यादव

0
17

घटना स्थल पर पहुंचे अपर परिवहन आयुक्त एवं भिण्ड आरटीओ ने किया घटना स्थल का निरीक्षण

दमोह :परिवहन और राजस्व मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने भिंड-ग्वालियर हाईवे पर ग्राम डांग के पास हुए बस और रेफ्रिजरेटेड कंटेनर की दुर्घटना में 7 लोगो की मौत पर घर दुःख व्यक्त किया है। हादसे में 15 लोग घायल हो गए हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से चर्चा और निर्देशानुसार घटना में मृतकों के परिजनों को 4- 4 लाख रुपये और दुर्घटना में घायलों को 50- 50 हजार रुपये की आर्थिक मदद जारी की गई है। मृतकों में 6 पुरुष और एक महिला शामिल है। राजस्व एवं परिवहन मंत्री तथा भिण्ड जिले के प्रभारी मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत ने इसके साथ ही घटना की जांच के निर्देश अफसरों को दिये है। श्री राजपूत ने बताया कि भिंड-ग्वालियर हाईवे पर बस और कंटेनर की दुर्घटना में 7 लोगों के दुःखद निधन की जानकारी मिलने की घटना मन को आहत करने वाली है। श्री राजपूत ने कहा कि हमारा विभाग हर समय वाहन चालकों से नियमों का पालन करते हुए संयमित गति से वाहन चलाने की अपील करता है ताकि किसी प्रकार की दुर्घटनाओं को टाला जा सके। इसके बाद भी कई वाहन चालक लापरवाही पूर्वक वाहन चलाते हैं, जिससे दुर्घनाएं हो जाती हैं जो बेहद दुःखद है। सरकार हर समय पीड़ित परिवारों के साथ है। प्रभावित परिवारों की हर संभव मदद की जाएगी। मंत्री श्री राजपूत ने दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान देने एवं दु:ख की इस घड़ी में परिजनों को संबल प्रदान करने की प्रार्थना ईश्वर से की है। उन्होंने विभाग के अफसरों को भी सख्त निर्देश दिए हैं कि ऐसी दुर्घटनाओं को रोकने के लिए हर सम्भव प्रयास करें। परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत एवं परिवहन आयुक्त मुकेश जैन ने हादसे में मृतकों के परिजनों को धैर्य रखने और घायलों के समुचित इलाज की व्यवस्थाओं के निर्देश दिये हैं।
अपर परिवहन आयुक्त श्री सक्सेना ने घायलों का हाल जाना
हादसे की जानकारी मिलते ही अतिरिक्त परिवहन आयुक्त प्रवर्तन अरविन्द सक्सेना तथा जिला परिवहन अधिकारी भिंड अनुराग शुक्ला द्वारा दुर्घटना स्थल गोहद चौराहा भिंड पहुंच कर दुर्घटना ग्रस्त बस का मुआयना किया गया। अतिरिक्त परिवहन आयुक्त प्रवर्तन अरविन्द सक्सेना द्वारा दुर्घटना में घायलों का अस्पताल पहुंच कर हाल जाना तथा खंड चिकित्सा अधिकारी से उनके समुचित इलाज करने के निर्देश दिए। श्री सक्सेना ने बताया कि प्रशासन को घायलों को हर संभव मदद उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं। श्री सक्सेना ने बताया कि हादसे का प्राथमिक कारण बस चालक की जगह रेफ्रिजरेटेड कंटेनर चालक की लापरवाही सामने आई है। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। जांच में बस का परमिट और फिटनेस सर्टिफिकेट सही पाया गया है। हादसे में घायल 5 व्यक्तियों को ग्वालियर रेफर कर दिया गया है। 2 की अस्पताल से छुट्टी कर दी गई है। बांकी घायलों को गोहद के अस्पताल में इलाज कराया जा रहा है। श्री सक्सेना ने बताया कि दुर्घटना में चार मृतकों की पहचान हो गई है। इनमें रजत राठौर (22) निवासी किलागेट ग्वालियर, गानी आदिवासी (20) निवासी सायगढ़ गांव जिला सागर, हरेंद्र निवासी इटावा और हरिओम निवासी हरदोई यूपी शामिल हैं। वहीं 3 मृतकों की अभी पहचान नहीं हो पाई है। शवों को पोस्टमार्टम के लिए गोहद भेज दिया है।
हादसे में यह हुए घायल
ग्वालियर से उत्तरप्रदेश के बरेली जा रही बस क्रमांक एमपी 07 पी 1168 हाईवे पर सुबह 7 बजे एक कंटेनर से टकराने पर बस में सवार 45 लोगों में 7 की मृत्यु हो गई जबकि 15 यात्री घायल हो गए जिनमें आजम खां कादरी निवासी आपागंज ग्वालियर, अभिषेक पुत्र राजेश सिंह भदौरिया, डीडी नगर ग्वालियर, उषा सिंह पत्नी आरआर वैश्य निवासी आमखो, सत्यपाल सिंह पुत्र पूरन सिंह निवासी कन्नोज, हरनाथ सिंह पुत्र रामप्रताप सिंह भदौरिया डीडी नगर ग्वालियर, संजय सिंह पुत्र सत्येंद्र सिंह फर्रुखाबाद यूपी, अस्तिव पांडेय पुत्र शशिकांत पांडेय भोपाल, निशा राठौर पुत्री सुमेर सिंह राठौर निवासी किलागेट, राजीव कुमार पुत्र श्रीपाल सिंह हरदोई यूपी, रानी पत्नी सुनील नई सड़क ग्वालियर, सूरज पुत्र सुनील इटावा, संजय पुत्र सतेंद्र राठौर, रामगुलाम सिंह पुत्र रमा चौहान कानपुर, ईशा राठौर किलागेट तथा शिवानी राठौर, किलागेट घायलों में शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here