एनसीएल में हुआ स्वच्छता माह का समापन,स्वच्छता के क्षेत्र में कार्यों के लिए परियोजनाओं, इकाइयों व कर्मियों को मिले पुरस्कार,सिंगरौली से संवाद न्यूज ब्यूरो गोबिन्द राज की रिपोर्ट

0
38

सिंगरौली -नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) में गत 2 अक्टूबर से चल रहे स्वच्छता माह का समापन रविवार को एनसीएल मुख्यालय में हुआ । कोविड के चलते कार्यक्रम को विडियो कॉन्फ्रेंसिंग से प्रसारित किया गया । मुख्यालय मे आयोजित समारोह में एनसीएल के अध्यक्ष -सह प्रबंध निदेशक श्री प्रभात कुमार सिन्हा, निदेशक (कार्मिक) श्री बिमलेंदु कुमार, निदेशक (तकनीकी/संचालन) डॉ अनिंद्यय सिन्हा, निदेशक (वित्त) श्री आर एन दुबे, निदेशक (तकनीकी/परियोजना एवं योजना) श्री एस एस सिन्हा उपस्थित रहे । साथ ही सीएमओएआई के सचिव श्री सर्वेश सिंह सहित मुख्यालय के महाप्रबंधक गण, अधिकारी एवं कर्मचारी और श्रमिक संघ प्रतिनिधि उपस्थित हुए।

बतौर मुख्य अतिथि सीएमडी एनसीएल श्री प्रभात कुमार सिन्हा ने अपने उदबोधन में कहा कि अत्यंत खुशी की बात है कि हम क्रमिक रूप से इस महामारी से उबर रहे हैं । उन्होने कहा कि एनसीएल के हर क्षेत्र में बड़े एवं सकारात्मक परिवर्तन व बदलाव हुएँ हैं। एनसीएल कर्मियों के कल्याण गतिविधियों में सभी परियोजना के कालोनी में व्यापक एवं अमुलचुल परिवर्तन दिखता है । उन्होने कहा कि अच्छी कल्याणकारी गतिविधियों का सीधा असर उत्पादन उत्पादकता व पर पड़ता है। एनसीएल आज हर पैमाने पर खरी उतर रही है। उन्होने एक बार पुन: कोल इंडिया के स्थापना दिवस पर टीम एनसीएल को शुभकामनाएँ दीं ।

इस अवसर पर निदेशक (कार्मिक) श्री बिमलेंदू कुमार ने कहा कि आज कोल इंडिया का स्थापना दिवस है । एनसीएल के प्रयासों के सहयोग से सिंगरौली की स्वच्छता रैंकिंग मे सुधार हो रहा है ।यह गर्व का विषय है कि एनसीएल की कॉलोनियाँ कोल इंडिया की सर्वश्रेष्ठ कॉलोनियों में से एक हैं है फिर भी हमे इनका निरंतर नवीनीकरण एवं आधुनिकीकरण करते रहना है। उन्होने स्वच्छता शपथ को आत्मसात कर अपने कार्यस्थल को सुन्दर एवं स्वच्छ बनाने को कहा ।

निदेशक (तकनीकी/संचालन) डॉ अनिंद्य सिन्हा ने कहा कि अपने परिसर, आस पास के क्षेत्र एवं पर्यावरण की स्वच्छता हमारी ज़िम्मेदारी है। एनसीएल ने स्वच्छता के क्षेत्र मे बहुत कुछ किया है और आगे भी हम स्वच्छता के नए मानक निर्धारित करेंगे एवं उसे हासिल करेंगे ।

निदेशक (वित्त) श्री आर एन दुबे ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि यह सिर्फ स्वच्छता माह का समापन है, स्वच्छता अनवरत जारी रहेगी । उन्होने एनसीएल को खुबसूरत व स्वच्छ बनाने के प्रति अपनी कटिबद्धता दोहराई ।
निदेशक (तकनीकी/परियोजना एवं योजना) श्री एस एस सिन्हा ने कहा कि स्वच्छता आज की जरुरत है बेहतर पर्यावरण एवं स्वच्छ परिसर तथा इसके प्रति निरंतर अनुशासन के साथ काम कर हम स्वच्छता के लक्ष्य को सच्चे मायने मे हासिल कर सकते है ।

कार्यक्रम में उपस्थित लोगों ने स्वच्छता शपथ ली । इस अवसर पर महाप्रबंधक (कार्मिक) श्री चार्ल्स जुस्टर ने एनसीएल स्वच्छता माह के दौरान किए गए नवाचारी कार्यों का प्रतिवेदन रखा। स्वच्छता माह के दौरान किये गये स्वच्छता कार्यों को चित्रित विडियो के माध्यम से प्रदर्शित किया गया ।

एनसीएल में स्थापित हुई रेमेडी शेल

कार्यक्रम में सेवानिवृत अधिकारियों एवं कर्मचारियों का कम्पनी से एनसीएल से सीधे -2 दो तरफा संवाद हेतू रेमेडी शेल की स्थापना की है जिसका ई-उदघाटन सीएमडी एनसीएल द्वारा किया गया। शेल के माध्यम से सेवानिवृत्त कर्मी एक स्थान पर संपर्क करके अपनी समस्याओं को सुलझा सकेंगे तथा अपने बहुमूल्य सुझाओं से एनसीएल को लाभांवित कर सकेंगे ।

स्वच्छता के क्षेत्र में कार्यों के लिए परियोजनाओं, इकाइयों व कर्मियों को मिले पुरस्कार

समारोह में एनसीएल के विभिन्न क्षेत्रों, इकाइयों व कर्मियों को स्वच्छता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्यों के लिए पुरस्कारों से भी नवाजा गया। कार्यक्रम में एनसीएल कर्मियों के जीवन की गुणवत्ता (क्वालिटी ऑफ लाइफ) के आधार पर, उनके कार्यक्षेत्र में जीवन के गुणवत्ता (क्वालिटी ऑफ वर्क लाइफ) के आधार पर व दोनों को मिला कर कुल कर्मियों की जीवन की गुणवत्ता को देखा गया व पुरस्कार दिये गए। इन पुरस्कारों के लिए कर्मियों की सुविधा, कार्यक्षेत्र का वातावरण आदि जैसे कई पैमानो को माप कर परिणाम निकले गए हैं।

कार्यक्रम में एनसीएल कर्मियों को कार्यक्षेत्र आदि पर अनुरक्षण रख रखाव, स्वच्छता या नवीनीकरण जैसे बेमिसाल कार्यों में प्रदर्शन के लिए पुरस्कारों से नवाजा गया है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here